the india rise news what is spg how to join


यह सुरक्षा खासतौर पर VIP को दी जाती है। यह केंद्रीय गृह मंत्रालय के अधीन आता है। यह SPG और IB के एक विभाग के रूप में काम करता है। VIP सुरक्षा के लिए SPG के अलावा X, Y, Z और Z+ की सुरक्षा भी मुहैया करवाई जाती है।

अभिनेत्री के ऑफिस पर BMC का छापा, कंगना ने कहा सपना टूटने का समय आ गया है

 

1- SPG (Special Protection Group)

यह सुरक्षाकर्मियों का एक विशेष दल होता है। जिसे स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप कहते हैं। यह सुरक्षा बहुत सीमित लोगों को मुहैया करवाई जाती है। यह सुरक्षा VVIP को दी जाती है।

 

बता दें कि पहले सोनिया गांधी राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को SPG सुरक्षा मिली हुई थी जिसे अब मोदी सरकार ने वापस लेने का फैसला किया है। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से SPC की सुरक्षा हटा ली गई है उन्हें अब Z+ सुरक्षा दी गई है।

 

2- Z+ सुरक्षा

SPG के बाद Z+ सुरक्षा दूसरे नंबर की सुरक्षा होती है। यह सुरक्षा  VIP लोगों को दी जाती है। इनमें कुल 55 सुरक्षाकर्मी होते हैं। 55 में से 10 से ज्यादा NSG के कमांडो होते हैं। इसके अलावा पुलिस ऑफिसर होते हैं। इसके पहले सुरक्षा घेरे में NSG होते हैं इसके अलावा ITBP और CRPF के जवान Z+ सुरक्षा में शामिल होते हैं।

 

3 – Z सुरक्षा

Z+ के बाद Z श्रेणी की सुरक्षा आती है। इसमें कुल 22 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। 4 से 5 NSG कमांडो होते हैं। इसके अलावा ITBP, CRPF और पुलिसकर्मी तैनात होते हैं।

 

4 – Y श्रेणी की सुरक्षा

VIP सुरक्षा का चौथा क्लास Y श्रेणी होता है। कह सकते हैं की यह सुरक्षा कम खतरे वाले लोगों को मुहैया करवाई जाती है। इसमें कुल 11 सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। जिसमें दो कमांडो होते हैं, दो पीएसओ और शेष अर्धसैनिक बल के होते हैं।

 

5 – X सुरक्षा

VIP को दी जाने वाली X आखिरी श्रेणी है इसमें दो सुरक्षाकर्मी तैनात होते हैं। जिसमें PSO ( Personal Security Officer) होते हैं देश में ऐसे कई लोग हैं जिन्हें X श्रेणी की सुरक्षा मुहैया है। इस सुरक्षा में कमांडों शामिल नहीं होते हैं।

Follow Us