क्रिकेट प्रेमियों के लिए कोरोना महामारी के बीच एक अच्छी खबर सुनने को आई हैं। कोरोना वायरस के चलते 29 मार्च से शुरू होने वाले आईपीएल को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया था। अब बीसीसीआई आईपीएल को मानसून के बाद कराने का विचार कर रही है। इसके लिए बीसीसीआई नई विन्डो तलाश कर रही है। इसमें विदेशी प्लेयर्स को भी खिलाया जाएगा, लेकिन उसके लिए उन्हें पहले 14 दिन कोरंटीन रहना होगा। जोकि एक चुनौती बनी हुई है।

वर्ल्डकप टलने के बाद ही हो सकता है आईपीएल

आईपीएल क्रिकेट प्रेमियों के लिए एक त्योहार के जैसा है, आईपीएल के अक्टूबर-नवंबर में होने की संभावना है लेकिन यह इतना आसान नहीं हो सकता। दरअसल अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्डकप होना है। रिपोर्ट के मुताबिक आईपीएल वर्ल्डकप टलने के बाद ही हो सकता है और वर्ल्डकप के आगे टलने की पूरी संभावना है।

40% राजस्व मिलता है आईपीएल से क्रिकेट जगत को

आईपीएल के पूर्व सीईओ सुंदर रमन ने कहा कि आईपीएल रदद् होने से बीसीसीआई को काफी नुकसान होगा, क्रिकेट जगत इस नुकसान को झेल नहीं पाएगा। आईपीएल से क्रिकेट जगत को 40% तक राजस्व मिलता है, इसके रद्द होने से काफी नुकसान होगा।

हाल में ही बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने कहा कि आईपीएल टूर्नामेंट रद्द होने से करीब 4 हजार करोड़ रुपये का नुकसान होगा।

बिना दर्शकों के भी हो सकता है आईपीएल

आईपीएल के टूर्नामेंट के लिये अभी भी परिस्थितियां साफ नहीं है। यह टूर्नामेंट होना न होना भारत की परिस्थिति पर निर्भर करेगा। यदि वर्ल्डकप रद्द होता है या आगे बढ़ता है फिर भी यह देखना होगा कि उस वक़्त भारत की स्थिति क्या है। ऐसा भी हो सकता है कि बिना दर्शकों के इस टूर्नामेंट को कराया जाए।

Follow Us