● यह ट्रेन वर्तमान में चल रहीं 310 ट्रेनों के अलावा होंगी।

 

● रेल अधिकारियों के मुताबिक यह मूल ट्रेन से  2 से 3 घंटे पहले यात्रा पूरी करेंगी

 

● क्लोन ट्रेन का किराया हमसफर ट्रेन के बराबर होगा

 

रेलवे  की सोमवार को 20 जोड़ी यानी कि 40 क्लोन ट्रेन चलाने की पूरी तैयारी है। 12 सितंबर को इस बारे में जानकारी दी गई थी कि की 40 स्पेशल ट्रेन क्लोक ट्रेन यानी डुप्लीकेट ट्रेन की तरह काम करेंगी।

,,,,,,,,,

रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि क्लोन ट्रेन मूल रूप से वहां चलाई जाएंगी जहां यात्रियों की संख्या ज्यादा होगी। ये ट्रेन मूल ट्रेन के मुकाबले पहले चलाई जाएंगी। जिससे व्यवस्था बनी रही।

indian railway clone train

रेलवे ने क्लोन ट्रेन को ज्यादा यात्रियों वाले क्षेत्र में शुरू किया है खासतौर पर बिहार, बंगाल, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, आंध्रप्रदेश और कर्नाटक के बीच है। इन 18 डिब्बों वाली ट्रेन का किराया हमसफर एक्सप्रेस के बराबर लिया जाएगा। जबकि लखनऊ से दिल्ली 22 डिब्बों वाली ट्रेन चलेगी। इन ट्रेनों का किराया जनशताब्दी एक्सप्रेस के बराबर होगा। बता दें कि इन ट्रेनों के स्टॉप कम रखे गए हैं। यह मूल ट्रेन से  करीब 2 से 3 घंटे पहले यात्रा पूरी कर लेगी। इन ट्रेनों की बुकिंग अग्रिम 10 दिनों पहले से होगी। बुकिंग्स 19 सितंबर से शुरू हो चुकी हैं।

……………

ऐसे में  मूल ट्रेन से इनके सफर में 1 से लेकर 3 या 4 घंटे तक का समय कम रहेगा। बता दें ये क्लोन ट्रेन अभी से नहीं बल्कि इनकी घोषणा साल 2016 में ही रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कर दी थी, लेकिन रेल नेटवर्क पर भारी बोझ आने के कारण यह कवायद टल गई।

Follow Us