आयुर्वेद चिकित्सा की प्रचीन प्रणाली है. प्राचीन काल से ही आयुर्वेद ने कई प्रकार की बीमारियों से निजात दिलवाया है. जड़ी बूटियों ने बड़ी से बड़ी बीमारी को हराया है, तो क्या आज भी आयुर्वेद की जड़ी बूटियां हमें इस वैश्विक महामारी से बचाने में मददगार साबित होगीं ?

सेमल, दमबेल, मदार, रतनजोत की तरह एक बूटी है अश्वगंधा जो कई बीमारीयों से लड़ने में कारगर साबित हुई है. इसके प्रयोग से एंग्जायटी, स्ट्रेस, जलन-सूजन आदि की समस्याएं दूर हो जाती हैं वैसे तो अश्वगंधा एक छोटा सा पौधा है. पर यह बेहद ही असरदार औषधि के रुप में सामने आया है. अश्वगंधा से खास तौर पर स्ट्रेस और एंग्जायटी, ब्लड शुगर, जलन या सूजन जैसी बीमारीयां दूर हो जाती हैं.

लेकिन कुछ ऐसे बयान भी सामने आए हैं जिसमें यह माना गया है, कि एक रिसर्च हुई थी जिसमें यह सामने आया है कि, यह आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी Covid-19 से बचाव में काम आ सकती है.

IIT दिल्ली और जापान के एक नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ एडवांस्ड इंडस्ट्रियल साइंस एंड टेक्नोलॉजी की रिसर्च में यह पाया गया है कि, अश्वगंधा [Withania somnifera] और प्रोपोलिस [propolis] में ऐसे प्राकृतिक तत्व हैं, जिसका प्रयोग करने से कोरोना वायरस से बचाव संभव है। प्रोपोलिस, एक हनी बी प्रोडक्ट है, जिसमें आपके शरीर को क्षति से बचाने और बीमारी से लड़ने के लिए एंटीऑक्सिडेंट्स मौजूद हैं।

क्या आप जानते हैं, कि प्रोपोलिस [propolis] है क्या ?

मधुमक्खियां केवल शहद ही नहीं बल्कि अनेक प्रकार का उत्पाद करती हैं. जिसमें से एक प्रोपोलिस भी है. यह मधुमक्खियों द्वारा बनाया  गया एक  प्राकृतिक सैप है. जिसे Covid-19 से बचाव में लाया जा सकता है.

Follow Us