उत्तराखंड में कोरोना काल में उपभोक्ताओं को बिजली महंगी होने से झटका लगा है। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग ने सोमवार को नई दरें जारी कर दीं। इसके तहत बीपीएल और 100 यूनिट तक खर्च करने वाले उपभोक्ताओं को बिजली दरों में बढ़ोतरी से राहत दी गई है। 101 यूनिट से ऊपर वाले उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट के साथ ही फिक्स चार्ज भी अधिक देना होगा। बढ़ी हुईं दरें एक अप्रैल 2021 से लागू कर दी गई हैं।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड : बेकाबू हो रही संक्रमण की रफ्तार, रोज 30 हजार से ज्यादा सैंपलों की हो रही जांच 

उत्तराखंड में चुनावी साल में बिजली की दरों में इजाफा कर दिया गया है। प्रतिमाह 101 यूनिट से अधिक बिजली खर्च करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं को अब पहले की तुलना में अधिक बिल चुकाना होगा। जबकि कमर्शियल उपभोक्ताओं के टैरिफ में भी बढ़ोत्तरी की गई है। उत्तराखंड विद्युत नियामक आयोग की ओर से सोमवार को जारी वर्ष 2021- 22 के बिजली टैरिफ के अनुसार प्रतिमाह 101 से 200 यूनिट बिजली खर्च करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं को अब चार रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से बिल चुकाना होगा। अभी तक इस श्रेणी के उपभोक्ताओं के लिए टैरिफ तीन रुपये पचहत्तर पैसे था। यानी अब इस श्रेणी के उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 25 पैसे अधिक चुकाने होंगे।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड : अंतिम शाही स्नान में बड़ी संख्या में पहुंचे बैरागी संत, आस्था की लगाई डुबकी  

समय से भुगतान करने पर मिलेगी छूट
नियामक आयोग ने समय से बिजली बिल का भुगतान करने पर छूट का प्रावधान भी कर दिया है। इसके तहत जो उपभोक्ता बिजली बिल आने के 10 दिन के भीतर ऑनलाइन भुगतान करेगा, उसे पूरे बिल में 1.25 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। जो उपभोक्ता कैश भुगतान करेगा, उसे 0.75 फीसदी की विशेष छूट दी जाएगी।

Follow Us