कोरोना महामारी के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को बड़ा तोहफा दिया। दरअसल, केजरीवाल सरकार ने कोरोना महामारी के बीच खराब अर्थव्यवस्था और बढ़ती महंगाई को देखते हुए डीजल पर वैट घटाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि इससे राज्य में डीजल की कीमतों में कमी आएगी। उन्होंने व्यापारियों और कारोबारियों से राज्य में कोराबार शुरू करने का भी आग्रह किया।

diesel,


लोगों को महंगाई से बचाने के लिए घटाया वैट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद ने इसका ऐलान करते हुए कहा कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था को मजबूती देने और आम लोगों को महंगाई से बचाने के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है। दिल्ली सरकार ने अपने इस फैसले में राज्य में डीज़ल पर लगने वाले 30% वैट को घटाकर 16.75% कर दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के व्यापारी और उद्योगपति डीजल पर वैट में कटौती की मांग कर रहे थे।’

 

दिल्ली में एक लीटर डीजल की कीमत

दिल्ली में आज सुबह एक लीटर डीजल का रेट 81.94 रुपये था। वैट में कटौती करने के बाद दिल्ली में डीजल के दाम 8.36 रुपये प्रति लीटर कम हो जाएंगे। दिल्ली में वैट कम होने की अधिसूचना जारी होने के बाद एक लीटर डीजल 73.58 रुपये हो जाएगा। बता दें कि जून में पहली बार दिल्ली में डीजल की कीमत पेट्रोल की कीमत से ज्यादा हो गई थी।

 

क्या है अन्य महानगरों में डीजल और पेट्रोल की कीमत

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में डीजल की कीमत क्रमश: 77.04 रुपये, 80.11 रुपये और 78.86 रुपये प्रति लीटर हो गई है। इन तीन महानगरों में पेट्रोल का दाम भी लगातार 29वें दिन बिना किसी बदलाव के क्रमश: 82.10 रुपये, 87.19 रुपये और 83.63 रुपये प्रति लीटर पर बना हुआ है।

 

ईंंधन के दाम पर बीजेपी-AAP में हुई थी तकरार

राजधानी दिल्ली में पेट्रोल-डीजल की बढ़ोतरी पर सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (AAP) और विपक्षी बीजेपी में काफी तकरार हुई थी। बीजेपी ने दिल्ली में मंहगे तेल का जिम्मेदार केजरीवाल सरकार को ठहरा रही थी। लॉकडाउन के दौरान केजरीवाल सरकार ने पेट्रोल पर वैट 27 प्रतिशत से बढ़ाकर 30 प्रतिशत और डीजल पर वैट 16.75 प्रतिशत से बढ़ाकर 30 प्रतिशत कर दिया था।

 

जॉब्स पोर्टल से बड़ा फायदा

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार के ‘रोजगार बाजार’ जॉब पोर्टल पर बहुत अच्छा रिस्पॉन्स आया है। अभी तक लगभग 7,775 कंपनियों ने इसमें रजिस्टर किया है और 2,04,785 नौकरियां इसमें आई हैं। वहीं, लगभग 3 लाख 62 हजार लोगों ने नौकरी के लिए रजिस्टर किया है।

दुकानदारों से सोशल डिस्टेनसिंग के साथ दुकान खोलने का आदेश

सभी दुकानदारों, व्यापारियों से अपील करता हूं कि वे दुकानें खोलें, सोशल डिस्टेंगिंस रखते हुए काम करें, उद्योग वाले उद्योग खोलें। आने वाले दिनों में व्यापारियों से मिलने वाला हूं। जो भी समस्या होगी उसे ठीक करेंगे। इससे पहले अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए दिल्ली सरकार ने पिछले दिनों रेहड़ी-पटरी और ठेले वालों को छूट देने का एलान किया था, इसके तहत वे सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक काम कर सकते हैं।

Follow Us