Delhi: राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण काफी तेजी से फैल रहा है इसका अंदाजा मात्र इस बात से लगाया जा सकता है कि बीते 1 हफ्ते के अंदर 2000 मौतें दर्ज करी गई वही ऑक्सीजन की कमी से दिल्ली अभी तक उबर नहीं पाई कई अस्पतालों में लोगों को बेड भी नसीब नहीं हो पा रहे।

Delhi:

यह भी पढ़े : छत्तीसगढ़ : सीएम भूपेश बघेल का सराहनीय कार्य, लखनऊ के मेदांता अस्पताल के लिए रायपुर से भेजा ऑक्सीजन टैंकर 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत के 5 बड़े महानगरों में दिल्ली के अंदर कोरोना से होने वाली मौतों का आंकड़ा सबसे ज्यादा है वही दिल्ली में अब तक कोरोना से 14628 लोगों से उनकी सांसे छिन चुकी है पिछले एक सप्ताह के आंकडों पर गौर करे तो सात दिन में कुल 2,267 मौतें हो चुकी है। रोजाना औसतन 323 लोग दम तोड़ रहे हैं।

यह भी पढ़े : छत्तीसगढ़ : सीएम भूपेश बघेल का सराहनीय कार्य, लखनऊ के मेदांता अस्पताल के लिए रायपुर से भेजा ऑक्सीजन टैंकर 

यह आंकडा नवंबर में आई तीसरी लहर से भी तीन गुना ज्यादा है। लगातार मृतकों की संख्या बढ़ने से राजधानी में कोरोना से मृत्युदर 1.40 फीसदी हो गई है। यहां मौत का कुल आंकड़ा 14,628 है,जबकि, मुंबई में 12830, बेंगलुरु में 5840, चेन्नई में, 4873, और कोलकाता में 3332 है। इस लिहाज से देखें तो सबसे अधिक मौत दिल्ली में ही हुई है।

Follow Us