Corona’s havoc:कोरोना वायरस की चपेट में दुनियाभर के साढ़े तीन लाख से ज्यादा नागरिक आ चुके हैं। इनमें से 16491 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 1 लाख 337 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि 11204 की हालत बेहद गंभीर है। भारत सहित विश्व के कई देशों ने बड़े हिस्सों में लॉकडाउन कर दिया है, इस वजह से करीब 100 करोड़ लोग अपने घरों में कैद हैं। अकेले यूरोप में कोरोना मरीजों की संख्या डेढ़ लाख के पार हो गई है। वहीं, म्यांमार में भी कोरोना के पहले मामले की पुष्टि हो गई है
CORONA 3
कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में लगातार बढ़ता ही जा रहा है। दुनियाभर के कई देशों में एहतियातन लॉकडाउन लगा दिया गया है। करीब 100 करोड़ लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या साढ़े तीन लाख से अधिक हो गई है। एएफपी के आंकड़ों के मुताबिक पिछले वर्ष के अंत में महामारी के फैलने के बाद से सोमवार तक इतने मामले सामने आए हैं। पूरी दुनिया में कम से कम तीन लाख 50 हजार 142 लोग संक्रमित हैं और 15,873 मौतें हुई हैं। इनमें से अधिकतर मामले चीन (81,093) और इटली (63,927) में सामने आए।

दक्षिण कोरिया में 76 नये मामले सामने आए
दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के 76 नये मामले सामने आने के साथ ही नौ लोगों की मौत हो गई है। देश में इस घातक वायरस से अब तक 120 लोगों की मौत हो चुकी है और संक्रमित लोगों की संख्या 9,037 पर पहुंच गई है। दक्षिण कोरिया के रोग नियंत्रण एवं बचाव केद्र ने मंगलवार को कहा कि अब तक 171 मामले ऐसे हैं जो विदेश से संक्रमण लेकर देश आए हैं।
यूरोप, उत्तरी अमेरिका और अन्य देशों में प्रकोप के भयावह रूप लेने के बीच अधिकारियों ने संक्रमित लोगों के देश में प्रवेश को रोकने के लिए सीमा नियंत्रण गतिविधि तेज कर दी है।

वायरस का प्रसार रोकने के लिए ब्रिटेन में तीन हफ्ते का बंद
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने देश में कोविड-19 के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए लोगों की आवाजाही पर कम से कम तीन हफ्ते के लिए सख्त प्रतिबंध लगा दिए हैं। वायरस के चलते देश में मृतकों की संख्या 335 पर पहुंच गई है।
सोमवार शाम को टेलीविजन पर प्रसारित देश के नाम संबोधन में उन्होंने कहा कि कोई भी प्रधानमंत्री अपने लोगों पर इस तरह का दबाव नहीं बनाना चाहता, लेकिन हालात इस तरह के हैं कि उन्हें लोगों की आवाजाही को प्रतिबंधित करने और दो से अधिक लोगों के जुटने पर उनके खिलाफ कार्रवाई करने को मजबूर होना पड़ा है।

अमेरिका में एक दिन में 139 लोगों की मौत
अमेरिका में एक दिन में 130 से अधिक लोगों की मौत होने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आवश्यक मेडिकल आपूर्ति और निजी सुरक्षा उपकरणों की जमाखोरी रोकने के लिए एक सरकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं। यह पहली बार है जब देश में एक दिन में इतनी अधिक संख्या में लोगों की मौत हुई है। सोमवार तक अमेरिका में 43,700 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इनमें से 10,000 मामले केवल एक दिन में सामने आए। कोविड-19 के आंकड़े एकत्र कर रही वेबसाइट ‘वर्ल्डोमीटर’ ने यह जानकारी दी।
CORONA1
मलयेशिया में फंसे 113 भारतीय यात्री घर के लिए रवाना : उच्चायोग
कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप के चलते भारत सरकार की ओर से लगाए गए प्रतिबंधों के कारण अपनी यात्रा के रास्ते में फंसे 113 भारतीय यात्री मलयेशिया से सोमवार को अपने घरों के लिए रवाना हो गए। अधिकारियों ने यहां जानकारी दी।
भारतीय उच्चायोग ने कहा कि पहले भारतीयों को स्थानीय गैर सरकारी संगठनों और सामुदायिक संस्थाओं के समन्वय के जरिए विभिन्न होटलों और हॉस्टल में ले जाया गया था।  कुआलालंपुर में भारतीय उच्चायोग ने यात्रा प्रतिबंध के कारण कुआलालंपुर के हवाई अड्डे पर फंसे 113 भारतीय यात्रियों को सुरक्षित निकालने में समन्वय किया।

भारत जैसे देशों पर निर्भर है कोरोना का भविष्य : डब्ल्यूएचओ
डब्ल्यूएचओ को निदेशक डॉ. माइकल जे रायन ने कहा है कि कोरोना वायरस का भविष्य में कैसा असर रहेगा यह बड़ी जनसंख्या वाले देशों की कार्रवाई पर तय होगा। उन्होंने कहा कि चीन की तरह भारत बहुत बड़ी जनसंख्या वाला देश है और इसके दूरगामी परिणाम इस बात पर निर्भर करेंगे कि बड़ी जनसंख्या वाले देश इसे लेकर क्या कदम उठाते हैं। यह बहुत जरूरी है कि भारत जन स्वास्थ्य के स्तर पर आक्रामक फैसले लेना जारी रखे। उन्होंने कहा, भारत ने स्मॉल पॉक्स और पोलियो के उन्मूलन में दुनिया का नेतृत्व किया। भारत में जबरदस्त क्षमता है, सभी देशों में जबरदस्त क्षमता है जब समुदायों और नागरिक समाजों को जुटाया जाता है।

फ्रांस में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 860 हुई 
फ्रांस में कोरोना वायरस से 186 और लोगों की मौत हो गई है। विदेश मंत्री ने सोमवार को बताया कि इन मौतों के साथ ही देश में इस महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 860 हो गई है। फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री आलिवियर वेरान ने कहा कि फ्रांस में 19 हजार 856 लोग पॉजिटिव पाए गए। इनमें से 8675 लोग अस्पताल में भर्ती हैं जिनमें से 2082 की गहन चिकित्सा की जा रही है।

न्यूयॉर्क में एक दिन में 58 की मौत
अमेरिका के न्यूयॉर्क में 114 लोगों की मौत अब तक वायरस संक्रमण से हुई है, इनमें 58 लोगों की एक ही दिन में मौत हुई। यहां के मेयर बिल डे ब्लासियो के अनुसार न्यूयॉर्क अगले 10 दिन में जरूरी चिकित्सा सप्लाई की गंभीर कमी से गुजर सकता है। वहीं उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने बताया कि कुल 2.50 लाख नागरिकों की जांच अब तक हुई है। न्यूयॉर्क के लिए एक हजार बिस्तर, कैलिफोर्निया के लिए दो हजार और वाशिंगटन के लिए एक हजार बिस्तर के बड़े मेडिकल स्टेशन मुहैया करवाने के लिए देश की संघीय आपात प्रबंधन एजेंसी से कहा गया है।

Follow Us