chetan chauchan the india rise


 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सदस्य और यूपी के विधायक चेतन चौहान का रविवार को निधन हो गया है। गुड़गांव के मेदांता अस्पताल में उन्हें भर्ती किया गया था। वे कोरोना से संक्रमित थे। शनिवार को दिक्कत बढ़ने पर उन्हें लखनऊ के पीजीआई से मेदांता में लाया गया था।

अपडेट-


उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री चेतन चौहान का निधन हो गया है। कोरोना से संक्रमित होने के बाद चेतन चौहान को गुरुग्राम के मेदातां हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहाँ इलाज के दौरान किडनी फेल होने के चलते रविवार को उनका निधन हो गया।

->> पहले ही किडनी और ब्लडप्रेशर की समस्या थीं

कोरोना से वो उबरने से पहले ही किडनी और ब्लड प्रेशर की समस्या उनके शरीर में पैदा हो गई थी। ऐसे में उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। हालत में सुधार नहीं आने पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया। 11 जुलाई को कोविड 19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद चेतन चौहान को लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया था। छोटे भाई पुष्पेंद चौहान ने चेतन चौहान के देहांत की पुष्टि करते हुए कहा कि वो कोरानो से पीड़ित थे और इसके कॉम्पलीकेशन की वजह से उनका देहांत हो गया।

->> अर्जुन अवार्ड से हो चुके हैं सम्मानित

अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित हो चुके चेतन चौहान भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी रहे हैं। भारत के लिए 1969 में टेस्ट डेब्यू करने वाले चेतन चौहान ने अपने क्रिकेट करियर में 40 टेस्ट और 7 एकदिवसीय मैच खेले। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 31 की औसत से 2084 रन बनाए। सुनील गावस्कर के साथ उन्होंने टीम इंडिया के लिए बतौर ओपनर शानदार साझेदारियां की। दोनों ने मिलकर बतौर ओपनर 3 हजार रन जोड़े। वहीं 7 वनडे में वो केवल 157 रन बना सके।

->> राजनीति में दिया अहम योगदान

राजनीति के मैदान पर कदम रखने से पहले वो डीडीसीएक के 13 साल उपाध्यक्ष रहे। इसके अलावा वह 1991 से 1998 तक सांसद भी रहे हैं। बीजेपी में शामिल होने के बाद वह यूपी की सरकार में सैनिक कल्याण, होमगार्ड्स, प्रांतीय रक्षक दल और नागरिक सुरक्षा मंत्री बने थे। फिलहाल उनकी उम्र 73 वर्ष की थी। चेतन चौहान उत्तर प्रदेश के अमरोहा से ही सांसद भी रहे हैं। वर्तमान में वह अमरोहा की नोगांवा सहादात सीट से विधायक थे।

->> कोरोना से यूपी में अब तक दो मंत्रियों का निधन

हाल ही में यूपी सरकार के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इससे पहले योगी सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री रहीं कमल रानी वरुण का पिछले हफ्ते 2 अगस्त को निधन हो गया था। वह यूपी की कैबिनेट मंत्री थीं और उन्हें भी कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद एसजीपीजीआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

->> यूपी सरकार के कई मंत्री कोरोना पॉजिटिव

उत्तर प्रदेश में अभी तक खेल मंत्री उपेंद्र तिवारी, जेल मंत्री जय प्रताप सिंह, राजेंद्र प्रताप सिंह, धर्म सिंह सैनी, कैबिनेट मंत्री मोती सिंह और महेंद्र सिंह कोरोना से ठीक हो चुके हैं। इसके अलावा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी पिछले हफ्ते कोरोना पॉजिटिव मिले थे।

Follow Us