Kings 11 punjab priti zinta bollywood ipl 2020 games


 

IPL का दूसरा मैच किंग्स इलेवन पंजाब और दिल्ली कैपिटल्स के बीच था। यह मैच काफी दिलचस्प रहा क्योंकि यह सुपर ओवर तक गया। जीत लगभग पंजाब की तय थी, लेकिन दिल्ली ने दो आखिरी गेंदों को 2 विकेट झटक कर मैच को सुपर ओवर तक ले गए। वहीं IPL मैच में खराब अंपायरिंग को लेकर प्रीति जिंटा ने खूब नाराजगी जताई। किंग्स इलेवन पंजाब की मालकिन प्रीति जिंटा अंपायर नितिन मेनन के फैसले पर सवाल उठाया। इतना ही नहीं उन्होंने BCCI से नए नियम लाने की अपील भी की।

 

 

प्रीति जिंटा ने एक ट्वीट भी किया जिसमें लिखा, ‘मैं पूरे उत्साह के साथ कोरोना महामारी के चलते मैच देखने आई मुस्कुराते हुए 6 दिन तक क्वारंटीन रही। उसके बाद 5 बार Covid-19 का टेस्ट भी करवाया, लेकिन इस 1 रन ने मुझे झटका दिया है। ऐसी तकनीक का क्या काम जिसका इस्तेमाल न किया जा सके। यह हर साल नहीं हो सकता BCCI इसे रोकने के नए नियम लाए’

 

अगले ट्वीट में उन्होंने यह कहा, मेरा मानना है कि हार और जीत को सम्मान के साथ स्वीकार करना चाहिए, लेकिन पॉलिसी में बदलाव के लिए कहा जा सकता है। जिससे गेम में सुधार लाया जा सके। ऐसा पहले भी हो चुका है और हमें आगे बढ़ना चाहिए, सकारात्मकता के लिए मैं आगे की ओर देखना चाहूंगी। 

 

 

19 वे ओवर में कगीसो रबाडा गेंदबाजी करने आए उनकी पहले गेंद पर मयंक अग्रवाल ने चौका जड़ा। तीसरी गेंद पर रबाडा ने यॉर्कर डाली जिसे मयंक अग्रवाल ने एक्सट्रा कवर में खेला उनके साथ खेल रहे क्रिस जॉर्डन को डेंजर ऐंड पर पहुंचना था। दोनों गेंदबाजों ने दौड़कर रन पूरे किए हालांकि स्क्वेअर लेग पर खड़े अंपायर नितिन मोनन ने इसे ‘शॉर्ट रन’ करार दिया। यानि बल्लेबाज क्रीज में बिना पहुंचे ही दूसरे रन के लिए दौड़ पड़ा. अंपायर के अनुसार विकेटकीपर छोर पर जार्डन ने अपना बल्ला क्रीज के पार नहीं किया था और दूसरे रन के लिए दौड़ पड़े। 

 

 

टीवी रिप्ले देखने से पता चलता है कि अंपायर नितिन मेनन का फैसला गलत था, जार्डन ने दौड़ लगाते हुए क्रीज को पार किया था। इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर अंपायर के फैसले को लेकर चर्चा शुरू हो गई। वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट किया, मैं मैन ऑफ द मैच के चुनाव से सहमत नहीं हूं.जिस अंपायर ने शॉर्ट रन दिया उन्हें मैन ऑफ द मैच मिलना चाहिए. शॉर्ट रन नहीं था और आखिर में इसी से अंतर पड़ा। 

 

Follow Us