अयोध्या में भूमि पूजन से पहले कोरोना ने एंट्री ले ली है। राम जन्मभूमि के पुजारी प्रदीप दास कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। पुजारी के साथ 16 अन्य पुलिसकर्मियों की भी कोरोना संक्रमित होने की खबर मिल रही है लेकिन सीडीओ प्रथमेश कुमार ने इस बात को नकार दिया है।

ayodhya ram mandir

 

 

राम जन्मभूमि में प्रधान पुजारी आचार्य सतेंद्र दास के साथ चार अन्य पुजारी भी सेवा करते हैं जिसमें से एक पुजारी प्रदीप दास की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पुजारी समेत 16 पुलिसकर्मियों को होम क्वारंटीन किया गया है।

 

क्या कोरोना पूजन में डाल देगा अड़चन

एक लंबे इंतजार के बाद अब रामलला का मंदिर निर्माण कार्य शुरू हुआ है। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने प्रधानमंत्री कार्यालय को 3 और 5 अगस्त की तारीख दे थी। जिसमें से पीएमओ ने 5 अगस्त की तारीख को चुना था, लेकिन कोरोना के संकट को देख अब परेशानियां बढ़ती दिखाई दे रही हैं।

 

200 लोगों का किया गया एंटीजन टेस्ट

शिलान्यास को लेकर तैयारी जोरो शोरों से चल रही हैं। 5 अगस्त को भूमि पूजन से पहले अयोध्या में 200 लोगों का कोरोना एंटीजन टेस्ट करवाया गया। जिसमें मंदिर के पुजारी प्रदीप दास समेत पुलिसकर्मी पॉज़िटिव पाए गए, फिलहाल अभी आरटी पीसीआर टेस्ट करने की तैयारी की जा रही है।

 

बुधवार को अयोध्या में आए 66 केस

अयोध्या में बुधवार को 66 नए कोरोना के मामले दर्ज हुए थे। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1041 पहुंच गई है। जबकि 657 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं।

 

3 अगस्त से शुरू किया जाएगा जाएगा अनुष्ठान 

जानकारी के मुताबिक राम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा ने जानकारी दी कि परिसर में 3 अगस्त से अनुष्ठान और पूजन की तैयारी शुरू हो जाएंगी। सदस्यों की जानकारी के मुताबिक 3 अगस्त को गणेश पूजा 4 अगस्त को रामार्चा और 5 अगस्त को 8 बजे से गर्भगृह पर पूजन शुरू कर दिया जाएगा। राम जन्मभूमि का पूजा अनुष्ठान काशी के 11 पुजारी द्वारा सम्पन्न किया जाएगा।

Follow Us