देशभर में कोरना संक्रमण (Covid-190 के मामले बढ़ने के साथ उत्तराखंड (Uttarakhand) में भी कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे है. ऐसे में हरिद्वार (Haridwar) में हो रहे कुंभ मेले के आयोजन की वजह से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने लगे है. इस मामले पर योग गुरू बाबा रामदेव (Yoga guru baba ramdev) ने पतंजलि (Patanjali) में कोरोना वायरस के संक्रमण की खबर फैलने से इनकार किया है. मीडिया में चल रही भ्रामक खबरों को गलत बताते हुए बाबा रामदेव ने बताया है कि पतंजलि में एक भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित नहीं है.

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड: कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, अस्पताल ही नहीं मिल रही जगह  

उन्होंने कहा कि जो आईपीडी में नए रोगी और आचार्यकुलम में नए विद्यार्थी प्रवेश के लिए आए, उनका हमने कोविड प्रोटोकॉल की एसओपी के तहत टेस्ट करवाया गया है. उसमें से भी आगंतुक सिर्फ 14 व्यक्ति ही कोरोना पॉजिटिव मिले थे, जिन्हें हमने पतंजलि के कैंपस में प्रवेश की अनुमति नहीं दी है.

पतंजलि में कोरोना संक्रमण नहीं : बाबा रामदेव
बाबा रामदेव ने स्वास्थ्य विभाग के पतंजलि में आए कोरोना संक्रमण के आंकड़े को सिरे से खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि यह बहुत बड़ा झूठ फैलाया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव पतंजलि में मिले हैं। जो भी पतंजलि में आ रहे हैं उनका पहले कोरोना टेस्ट किया जा रहा है, उसमें जो पॉजिटिव आते हैं उनको आइसोलेट किया गया है। रामदेव ने कहा कि सरकार काफी अच्छा कार्य कर रही है , जल्द ही कोरोना महामारी से सभी को निजात मिलेगी। 

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड : भारत-चीन सीमा में टूटा ग्लेशियर, छह की गई जान 

स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार 10 से 22 अप्रैल के बीच पतंजलि योगपीठ में 42, योगग्राम में 28 जबकि आचार्यकुलम में 9 लोगों को कोरोना ने अपनी जद में ले लिया है। सीएमओ डॉ.एसके झा का कहना है कि यह मामले एक साथ या एक दिन में सामने नहीं आये हैं, बल्कि डेढ़ माह में 115 पॉजिटिव तीन अलग-अलग जगह पर मिले हैं। 10 अप्रैल से ज्यादा 83 मामले आये हैं। पतंजलि में इतनी अधिक संख्या में कोरोना संक्रमित आने के बाद स्वास्थ्य विभाग पतंजलि के महत्वपूर्ण लोगों का कोविड टेस्ट कराने की तैयारी कर रहा है। बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण का भी जल्द कोरोना टेस्ट किया जाएगा।

Follow Us