द इंडिया राइज
14 अप्रैज के बाद सरकार लॉकडाउल खोलने का फैसला कर सकती है। प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को इसका संकेत दिया है। उन्होंने केंद्रीय मंत्रियों से बात कर कहा कि वे उन इलाकों में विभागों को खोलने की श्रेणीबद्ध योजना तैयार करें जहां कोरोना महामारी का असर नहीं है। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केंद्रीय मंत्रिपरिषद की बैठक की अध्यक्षता की।  उन्होंने मंत्रियों से एक सूची बनाने को कहा जिसमें लॉकडाउन खत्म होने के बाद के 10 प्रमुख फैसलों और 10 प्रमुख क्षेत्रों की जानकारी हो, जिन पर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।
pm narendra modi
जहां प्रकोप कम, वहां से हट सकता है लॉकडाउन
प्रधानमंत्री ने कहा कि जमीनी हालात जानने के लिए यह जरूरी है कि नेता राज्य और जिला प्रशासन से लगातार संवाद करें, खास कर उन जिलों में जहां कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा है। साथ ही उन्हें भविष्य में आ सकने वाली दिक्कतों का हल उपलब्ध कराएं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मंत्रियों को कामकाज जारी रखने की योजना बनानी चाहिए। उन इलाकों में विभागों को खोलने की श्रेणीबद्ध योजना बनाई जानी चाहिए जहां पर कोरोना का प्रकोप नहीं है।

किसानों का ख्याल रखना ज्यादा जरूरी 
प्रधानमंत्री ने कहा कि खेती के समय में सरकार किसानों को हर संभव सहायता उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि एक बार लॉकडाउन समाप्त हो जाने के बाद आकस्मिक परिस्थितियों के लिए रणनीतिक होना आवश्यक है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘किसानों का कल्याण अत्यंत महत्वपूर्ण है। सरकार किसानों को फसल कटाई के सीजन में हरसंभव सहायता प्रदान करेगी।’ प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से ग्रामीण क्षेत्रों एवं जमीनी संस्थानों में आरोग्य सेतु एप को लोकप्रिय बनाने को कहा ताकि महामारी के बारे में जानकारी एवं जागरूकता बढ़ाई जा सके।

राशन की दुकान पर भीड़ न हो 
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह सुनिश्चित करना भी अत्यंत महत्वपूर्ण है कि पीडीएस केंद्रों पर भीड़ न हो, प्रभावकारी निगरानी बनी रहे, शिकायतों पर ठोस कार्रवाई हो और आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी एवं उनकी कीमतों में वृद्धि को रोका जा सके। पीएम मोदी ने इस बात पर जोर दिया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के लाभ निर्बाध रूप से लाभार्थियों तक पहुंचती रहनी चाहिए।

Follow Us