सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना महामारी के मद्देनजर देश की सबसे अहम परीक्षा में शुमार JEE Main 2020 और NEET 2020 परीक्षा स्थगित करने की मांग को खारिज कर दिया है। कोर्ट ने IIT-JEE और NEET परीक्षा को आयोजित करने को हरी झंडी दे दी है।

 

->>तय शेड्यूल पर ही होंगी परीक्षा

कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते सिंतबर में प्रस्तावित IIT-JEE और NEET परीक्षाओं को टालने की मांग की गई थी। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के हाल ही में बताया था कि जेईई परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर तक आयोजित की जाएगी, वहीं नीट परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित की जाएगी।

 

->> कोर्ट ने कहा छात्रों का कीमती साल बर्बाद नहीं कर सकते

मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन को स्थगित करने की मांग वाली याचिका को जस्टिस अरुण मिश्रा कि पीठ ने खारिज कर दिया। याचिका खारिज करते हुए पीठ ने कहा क्या देश में सब कुछ रोक दिया जाए? एक कीमती साल को यूं ही बर्बाद हो जाने दिया जाए? कोर्ट ने आगे कहा कि यह सुरक्षा उपायों के साथ आगे बढ़ने का समय है। वहीं, NTA की ओर से पेश SG तुषार मेहता ने भी कोर्ट से कहा कि सुरक्षा उपायों के साथ परीक्षा आयोजित कराने की इजाजत दी जानी चाहिए। हालांकि, सभी दलीलों के बाद कोर्ट ने आज जेईई मेन और नीट परीक्षा स्थगित करने वाली याचिका को खारिज कर दिया है और जेईई मेन और नीट परीक्षा को तय पर समय आयोजित करने का फैसला सुना दिया है।

 

->>आज या कल जारी हो सकते हैं एडमिट कार्ड

केस की सुनवाई के बीच जेईई मेन के लाखों छात्रों को अपने एडमिट कार्ड का भी इंतजार है। एनटीए नोटिस के मुताबिक परीक्षा से 15 दिन पहले एडमिट कार्ड जारी किए जाने थे। ऐसे में एडमिट कार्ड आज या कल में कभी भी जारी हो सकते हैं।

 

->>11 छात्रों ने दर्ज की थी याचिका

11 राज्यों के 11 छात्रों ने देश में तेजी से बढ़ रहे कोविड-19 महामारी के मामलों की संख्या के मद्देनजर जेईई मेन और नीट यूजी परीक्षाएं स्थगित करने के अनुरोध के साथ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर हुई थी। याचिका में कोरोना वायरस महामारी का जिक्र करते हुए राष्ट्रीय परीक्षा एजेन्सी की तीन जुलाई की नोटिस रद्द करने का अनुरोध किया गया था।

 

->>कोरोना प्रोटोकॉल के तहत होगी नीट परीक्षा

नीट 2020 के लिए कुल 15,93,452 लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। एनटीए ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि NEET परीक्षा का आयोजन सोशल डिस्टेंसिंग का नियम पालन कर किया जाएगा। इसलिए परीक्षा केंद्रों की संख्या दोगुनी की जा रही है, छात्रों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए और कोविड 19 महामारी के सभी प्रोटोकॉल फॉलो करते हुए ये परीक्षा आयोजित की जाएगी।

Follow Us