कानपुर एनकाउंटर के मुख्य आरोपी विकास दुबे के राइट हैंड अमर दुबे को उत्तर प्रदेश की स्पेशल टास्क
फोर्स ने हमीरपुर में मार गिराया है। अमर दुबे बिकरु के शूटआउट में शामिल था।

अमर दुबे बिकरु शूटआउट के मास्टरमाइंड गैंगस्टर विकास दुबे के मामा अतुल दुबे का चचेरा भाई था।
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक विकास दुबे अमर पर आंख बंद करके भरोसा करता था। साथ ही अमर दुबे
निशाना लगाने में भी माहिर था। अमर की शादी नौ दिन पहले 29 जून को हुई थी।

वहीं मंगलवार को विकास दुबे को फरीदाबाद में देखा गया। उसकी तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई
थी। सूत्रों के मुताबिक विकास फरीदाबाद के सेक्टर-87 में रिश्तेदार के यहां रुका था। उसने होटल में बुकिंग
करवाने की कोशिश की थी लेकिन फोटो क्लियर न होने के कारण बुकिंग नहीं मिल पाई।

 

इस बीच किसी ने पुलिस को सूचना दी लेकिन पुलिस के वहां पहुंचने से पहले विकास वहां से भाग गया। यूपी पुलिस ने अब
इनामी राशि बढ़ाकर 5 लाख कर दी है जो कि पहले 2.5 लाख थी। अभी तक यूपी में किसी अपराधी पर
सबसे बड़ा इनाम है। पुलिस ने श्रवण और उसे बेटे को भी गिरफ्तार कर लिया है।

 

वहीं कानपुर पुलिस ने विकास दुबे की गैंग में शामिल श्यामू बाजपेयी को भी गिरफ्तार कर लिया है। श्यामू के
पैर में गोली मारी उसके बाद पुलिस ने उसे अस्पताल भर्ती किया हैं। श्यामू पर 25 हजार का इनाम था। उनके
पास से 2 जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं।

Follow Us